Hindi News

‘मोदी की खाल खींच लेंगे’: तेज प्रताप की बेवकूफी साबित करने वाले 6 बयान

0

तेज प्रताप यादव को जानते हैं? हां वही बिहारवाले, लालू यादव के सुपुत्र. बहुत चरस बो रखी है इन्होंने कई दिनों से. कभी किसी को घर में घुसकर हौंकने की धमकी दे देते हैं, तो कभी वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी की खाल उधड़वाने लगते हैं. ‘तेज प्रताप ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ वाले नवाजुद्दीन और ‘राजनीति’ वाले अर्जुन रामपाल का सस्ता मिक्सचर है.’ हमने तेज प्रताप के कुछ और वीडियो देखे, तो  बात सही पाई.

अब ये मत कहना कि एक बयान देने पर इतना नहीं धोया जाना चाहिए. अरे यार आदमी बिहार का स्वास्थ्य मंत्री रह चुका है, मम्मी-पापा दोनों पूर्व-मुख्यमंत्री हैं, छोटा भाई उप-मुख्यमंत्री रह चुका है और इन्हें बोलने की तमीज ही नहीं है. यहां इसी कोफ्त में खटे जा रहे हैं कि हमारे यहां ढंग के नेता नहीं हैं. नई उम्र वालों से जो उम्मीद है, उस पर तेज प्रताप जैसे लोग मिट्टी डाल देते हैं. भाई आदमी के पास कुछ काम न हो, तो वो राहुल गांधी की तरह छुट्टी पर चला जाए. बहुत अच्छी बात है. लेकिन ये फर्जी बकैती न करे.

तेज प्रताप ने सिर्फ अभी ऐसे झंडूपने वाले बयान नहीं दिए हैं. इससे पहले भी वो कई बार अपने IQ लेवल का परिचय दे चुके हैं. देखिए…

1. नरेंद्र मोदी की खाल उतरवा लेंगे

केंद्र सरकार ने लालू यादव की सुरक्षा घटा दी है. 27 नवंबर को जब तेज प्रताप शीतकालीन सत्र के पहले दिन जब विधानसभा जा रहे थे, तो मीडिया ने इस पर उनका रिऐक्शन मांगा. तेज प्रताप बोले,

‘सुरक्षा जो वापस लिया है, आज हम लोगों का कार्यक्रम लगा हुआ है और लालू प्रसाद यादव जी जाते रहते हैं कार्यक्रमों में. तो ये मर्डर कराने की साजिश रची जा रही है. उनको मुंहतोड़ जवाब हम देंगे. नरेंद्र मोदी जी का खाल उधड़वा लेंगे. नरेंद्र मोदी का खाल उतरवा लेंगे हम. जाकर बोलिए.’

केंद्र सरकार ने लालू यादव की सुरक्षा Z+ से घटाकर Z कर दी है. उनके अलावा बिहार में जीतन राम मांझी की सुरक्षा भी घटाई गई है.

 

2. घर में घुसकर मारेंगे खाल उतरवाने वाले बयान से एक हफ्ते पहले तेज प्रताप ने औरंगाबाद की एक रैली में मंच से कहा,

‘सुशील मोदी कॉल कर रहे हैं अपन को. माननीय मंत्रीजी हैं… पूर्व स्वास्थ्य मंत्री जी से बात कराइए. बोले हम का बात है. उसका लड़का का बियाह है, उत्कर्ष मोदी का. बुला रहा है, बेइज्जत कर रहा है. बुलाया तो हम वहीं पोल खोल देंगे पूरा जनता के बीच में. लड़ाई जारी है, हम थोड़े मानेंगे. वार करेंगे. चूंकि हम उसके घर में घुसकर मारेंगे. उस शादी में वहीं हम सभा करेंगे, तोड़-फोड़ करेंगे. वहां भी राजनीति करेंगे. गरीब-गुरबा को जो छला है, उसके घर में घुसकर मारेंगे. सारे अतिथियों के सामने बेइज्जत होगा.’

बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी के बेटे उत्कर्ष की 3 दिसंबर को शादी है. इसी शादी को लेकर तेज प्रताप के इस बयान के बाद सुशील मोदी ने शादी का वेन्यू बदल दिया. हालांकि, वेन्यू बदलने के पीछे कोई और कारण बताया जा रहा है. बिना बैंड-बाजे के होने जा रही ये शादी अपने इंतज़ाम को लेकर पहले से चर्चा में है.

 

3. आपके पुत्र नपुंसक हैं क्या

शादी को लेकर तेज प्रताप और सुशील मोदी का पुराना नाता है. पिछले दिनों जब लालू के छोटे बेटे तेजस्वी यादव की शादी की बात चल रही थी, तो सुशील मोदी ने बात छेड़ते हुए कहा था, ‘सिर्फ उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की शादी की चर्चा हो रही है, बड़े भाई तेज प्रताप की क्यों नहीं?’ इस पर तेज प्रताप बोले,

‘चाहे शादी-बियाह का मुद्दा हो, तो हमारे पिताजी हैं, माताजी हैं, वो देखेंगे कि संतान के लिए क्या हो सकता है. तो हम यही नसीहत देंगे आप पहले अपने यहां घर में देखिए… आपके पुत्र नपुंसक हैं क्या? उनकी शादी कराइए आप.’

4. नीतीश की हालत प्रेग्नेंट औरत जैसी

ये भागलपुर की बात है. सृजन घोटाले को लेकर RJD ने एक रैली बुलाई थी. लालू यादव मंच पर बैठे थे और तेज प्रताप बोले,

‘नीतीश कुमार की हालत प्रेग्नेंट औरत जैसी है, जिसे हर हाल में किसी न किसी की मदद की ज़रूरत है. नीतीश की सेवा करने में बीजेपी नेता और उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी किसी आशा कार्यकर्ता की तरह लगे हैं. ये लोग बिहार को लूट रहे हैं.’

5. नीतीश कुमार ज़हरीली डायन हैं

ये भी सृजन घोटाला सामने आने के बाद की बात है. तेज प्रताप ने सृजन घोटाले के बहाने बीजेपी और नीतीश पर निशाना साधा था. बोले थे,

‘सलटू चच्चा जी, जिस तरह से आप पलटू काका के काले कारनामे को छिपाने में व्यस्त हैं… याद रखिएगा… नीतीश कुमार जी ज़हरीली डायन हैं. किसी को नहीं छोड़ते.’

6. मोदीजी हिटलर और नीतीश जी स्टालिन

2017 के ही सितंबर में तेज प्रताप ने कहा था,

‘हिटलर (मोदी जी) और स्टालिन (नीतीश जी) के बीच इकरारनामा साइन हुआ है. सृजन मर्डर केस दबाने का हम न्याय मांग रहे हैं, तो पुलिसिया डर दिखाया जा रहा है.’

इसके अलावा भी कुछ बयान हैं, मसलन,

‘DNA वाली बात सही निकली. नीतीश जी ने स्वीकार कर लिया कि भाजपा ने सही कहा था, दोष है’. 27 अगस्त को पटना के गांधी मैदान की रैली में तेज प्रताप ने कहा था, ‘नीतीश कुमार और सुशील मोदी रातोंरात एक-दूसरे से प्यार कर लेते हैं. उन्होंने कहा कि मैं सोऊंगा नहीं, मैं सांस लूंगा नहीं, जब तक बीजेपी के राज को चीर न दूं.’

इन्हें आप अपनी व्यक्तिगत संवेदनशीलता के आधार पर बवाली या नॉन-बवाली मान सकते हैं.

बाकी बिहार के साथी थोड़ा सोचें-समझें कि किसको नेता बना रहे हैं.

 

ये भी पढ़ें:

बेटे की मौत के ठीक 12 दिन बाद मिला पिता को बहू का ये लेटर, पढ़ के उड़े होश
नाबालिग छात्रा की हत्या पर फूटा लोगों का गुस्सा, 10 दिन बाद मिला कटा हुआ सिर
महिलाएं जानवरों को कराती हैं फीडिंग, बच्चों की तरह करती हैं परवरिश
छत की रेलिंग पर फंदा बना झूल गई महिला, हाथ पर लिखी ये बात रह गई अधूरी