माँ ने तो कर दिया था अंतिम संस्कार, अचानक एक दिन हुआ ये |

Mother Shock dead son see story: एंटोनीना मिखैलोवना रूस के क्रोंस्ताड की रहने वाली है, इन्हें एक दिन पुलिस ने एक डेड बॉडी की सिनाख्त के लिए बुलाया तो उन्होंने अपने बेटे के रूप में उसकी पहचान की, पुलिस ने डेड बॉडी उसे सौंप दी, घर वालो ने मिलकर उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया पर कहते है ना की भगवाना कुछ भी कर सकता है. एक दिन अचानक उनके साथ कुछ ऐसा हुआ जिसकी उन्हें उम्मीद भी नहीं थी.


घर के दरवाजे पर देखा बेटे को, Mother Shock dead son see story –

घटना के चार महीने बाद अचानक बैल बजी और जैसे ही एंटोनीना ने दरवाजा खोला उन्होंने देखा की सामने उनका बेटा है. वह उसे देखकर बेहोश होने लगी तभी बेटे ने उन्हें संभाला और वह घर के अंदर आया और अंदर आते ही सभी ने डेड बॉडी वाली बात कही तो बेटे ने कहा की उसके साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ, वह जिन्दा है और आपके सामने है अब घर वालो को कुछ समझ में नही आ रहा था.

पुलिस और समाज में मृत घोषित हो गया था बेटा –

आपको बता दूँ की एंटोनीना के बेटे का नाम कोन्सटैन्टिन है और यह जिन्दा है, वहीँ पुलिस को जब इस बात की जानकारी मिली तो वह भी हैरान रह गई क्योंकि पुलिस ने अपने रिकार्ड में उसे मृत घोषित कर दिया था और समाज भी उनके बेटे को मरा हुआ समझ रहे थे पर अचानक से लड़के के सामने आने से सब हैरान है.

कोन्सटैन्टिन ने बताया कुछ ऐसा, Mother Shock dead son see story –

पुलिस ने पूछा की वह इतने दिन कहां था और घर वालों से दूर क्यों था तो उसने बताया की मैं अपनी अहमियत देख रहा था और मैं यहाँ से दूर शांत वातावरण में गया था. क्योंकि मेरी माँ, पत्नी सब मुझसे अलग रहते थे इसलिए मेरा अस्तित्व हो या ना हो क्या होता है मैं देखना चाहता था. ऐसे में पुलिस ने कोन्सटैन्टिन की माँ से भी बात की क्योंकि उन्होंने गलत डेड बॉडी की पहचान की थी.

बेटे की तरह नजर आ रहा था वह –

कोन्सटैन्टिन की माँ ने पुलिस से माफ़ी मांगते हुए कहा की वह उनके बेटे की तरह ही नजर आ रहा था इसलिए उनसे गलत पहचान हो गई. वैसे वह खुद हैरान है की उनके यहाँ के सब लोगों ने उसे उनके बेटा ही बताया था और जब उन्होंने उसे देखा तो वह भी उन्हें अपना बेटा समझ बैठी. वैसे कोन्सटैन्टिन की माँ का कहना है की भगवान ने उनका बेटा उन्हें वापस लौटा दिया है इसलिए वह खुश हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *